सुधा रघुरमन(कर्नाटकी गायन) - SPIC MACAY Chittorgarh
Headlines News :
Home » » सुधा रघुरमन(कर्नाटकी गायन)

सुधा रघुरमन(कर्नाटकी गायन)

Written By Manik Chittorgarh on 18 अप्रैल 2018 | 11:55:00 am

स्पिक मैके चित्तौड़गढ़
वर्ल्ड डांस सीरिज-2018

हार्दिक आमंत्रण
===========
19 अप्रैल,गुरुवार
सुधा रघुरमन(कर्नाटकी गायन)

पहला आयोजन:सुबह नौ बजे
स्वामी विवेकानंद राजकीय मॉडल स्कूल,बड़ी सादड़ी,चित्तौड़गढ़

दूसरा आयोजन:शाम साढ़े छह बजे
(Meditation with Carnatic Vocal)
सेन्ट्रल एकेडमी सीनियर सेकंडरी स्कूल,सेंथी,चित्तौड़गढ़

नमस्कार,
स्पिक मैके की इस सीरिज में देश के नामी पांच कलाकार चित्तौड़गढ़ जिले में अपनी लगभग दस प्रस्तुतियां देंगे। बाकी आयोजन की जानकारी जल्दी ही आपके साथ साझा करेंगे। अभी वक़्त कम मिला है इसलिए इस पोस्ट/सन्देश को ही हमारी मनुहार समझकर इस संगीतमयी महोत्सव के आगाज़ वाले आयोजनों में साधिकार पधारेंअपने मित्रों और परिवारजन सहित आप आएँगे तो और संबल मिलेगा। स्पिक मैके आन्दोलन आपके होने से है। यह छात्र आन्दोलन अपनी स्थापना के चालीस वर्ष पूरे कर चुका है। यात्रा अनवरत जारी है। किसी भी तरह की जिज्ञासा के लिए हमारे चित्तौड़गढ़ इकाई संयोजक विनय से इस नंबर 9829042951 पर बातचीत संभव है। हाँ शाम के समय सेन्ट्रल एकेडमी में होने वाला आयोजन एकदम जुदा किस्म का दुर्लभ अवसर साबित होगा ऐसा हमारा मानना है, जब हम उपस्थित श्रोताओं को हमारी भारतीय संगीतमयी विरासत की बहुमूल्य परम्परा कर्नाटकी शास्त्रीय गायन के साथ मेडिटेशन का एक सत्र रखने जा रहे हैं। हमने बीते साल तीन मेडिटेशन सत्र रखे थे जो बहुत हद तक सफल हुए। प्लीज डेढ़ घंटे का वक़्त निकालकर इस विशेष सत्र का लाभ उठाएं। स्पिक मैके के सभी कार्यक्रमों में प्रवेश एकदम नि:शुल्क होता है। आमंत्रण पत्र या प्रवेश पत्र आदि की किसी तरह की औपचारिकता से हम दूर रहते हैं। बस दो-तीन निवेदन रहेंगे। प्रस्तुति के आरम्भ होने से पहले स्थान ग्रहण कर लीजिएगा। प्रस्तुति के दौरान अपना मोबाइल स्वीच ऑफ़/साइलेंट रखिएगा। फोटोग्राफी और विडिओग्राफी करना संभव नहीं होगा। आशा है हम उन्नीस अप्रैल वाले आयोजनों में मिल रहे हैं।और आखिर में एक निवेदन कि इस सन्देश को वाट्स एप और फेसबुक पर शेयर करना ना भूलें क्योंकि यह हमारी अपनी ही संस्कृति के संवर्धन से जुड़ा मामला है

आदर सहित
अश्रलेश दशोरा और सभी साथी
स्पिक मैके अध्यक्ष,चित्तौड़गढ़

सुधा रघुरमन जी का एक छोटा सा परिचय

Born and groomed in a family steeped in the traditions of carnatic music, Sudha was trained in vocal music initially  by her father late Sri. O.S. SRIDHAR and a year after  by her illustrious grandfather Sangeetha Bhushanam Sri. O.V. Subramaniam from whom she learnt the nuances of the art form in a detailed manner. She was also trained in violin by guru late. Sh. V. Janaki Raman. Sudha was bestowed with CCRT scholarship for violin and Senior scholarship for carnatic vocal by the most coveted Sahitya Kala parish as. Sudha, in her capacity as a versatile and prolific singer, has performed in various platforms,festivals including Vishnu Digambar Jain festival,Tansen samaroh,Nadaneerajanam,kumar Gandharva sangeet Samaroh,jayantika for Vasundhara Raje, Bhakti sangeet ,Pt.Ravishankar institutes music festival ,Mauritius tamil sangam ,Indira Gandhi memorial concert ,sangeet natak akadami’s music festival,to name a few.

 A widely travelled artiste Sudha’s creative flair has found expression in her role as a music composer for several dance productions. And Carnatic ensemble.she has more than 250 recordings to her credit. Her upbringing in North India has led her to develop a keen passion for Hindustani music which adds yet another dimension to her creative sensibilities. she has been invited to conduct many workshops in Mauritius,U.S.A.,Canada ,Europe ,Australia and several other places.as a composer she has composed music for classical dance forms held in commonwealth inaugural function in New Delhi.

In recognition to this she was awarded “ Delhi Yuva kalakar” by Sri.Shanmukhananda sangeeta sabha, and  “Chitra Kala Sammaan” by Hindi Sahitya Academy.she is an ‘A’ graded artist of AIR and recently performed at the All India Radio sangeet Sammelan  in Guntur and has been featured last month in the National Programme of Music. She  has been empanelled with ICCR since 2003.she has recently been conferred with the prestigious Ustad Bismillah khan Puraskar by THE CENTRAL  SANGEET  Natak Akademy, Nataraj Samman by the UTTHAN SAMITI. She is  also  a visiting faculty member at the Ashoka University, sonepat. 

Accompanying artists:
On the violin :Sh. V. S. K. Annadurai
On the Mridangam :Kumbakonam. N. Padmanabhan
Share this article :

Our Founder Dr. Kiran Seth

Archive

Follow by Email

Friends of SPIC MACAY

 
| |
Apni Maati E-Magazine
Copyright © 2014. SPIC MACAY Chittorgarh - All Rights Reserved
Template Design by Creating Website Published by Mas Template